‘राजभाषा साधन’ सी.डी. में अध्यक्ष, नराकास, कोयंबत्तूर का आमुख

 अध्यक्ष, नराकास, कोयंबत्तूर

हिंदी भारत संघ की राजभाषा है ।  भारतीय संविधान में किए गए उपबंधों एवं उनके आधार पर बनाए गए अधिनियम एवं नियमों के अनुरूप हिंदी का प्रयोग एवं प्रचारप्रसार सुनिश्चित करना भारत सरकार के सभी कार्यालयों का दायित्व है । इस दायित्व के आलोक में आमतौर पर भारत सरकार की राजभाषा नीति का समुचित अनुपालन केंद्रीय सरकार के सभी कार्यालयों में सुनिश्चित किया जाता है । 

 

राजभाषा नीति के कार्यान्वयन की दिशा में आनेवाली कठिनाइयों को दूर करने के लिए नगर स्तर पर एक संयुक्त मंच के रूप में नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की महत्वपूर्ण भूमिका होती है ।  केंद्रीय सरकार के कार्यालयों में हिंदी के प्रयोग को बढ़ाने के संबंध में उपाय करना भी समिति का कर्त्तव्य है ।  ऐसे कर्त्तव्य की पूर्ति की दिशा में कोयंबत्तूर नराकास की ओर से समय-समय पर कई कदम उठाए जा रहे हैं ।  ऐसे ही कदमों के अंतर्गत समिति के सदस्य-सचिव डॉ. सी. जय शंकर बाबु द्वारा यह राजभाषा साधन कंपैक्ट डिस्क संकलित व प्रस्तुत किया गया है ।  इस सी.डी. में राजभाषा कार्यान्वयन तथा हिंदी भाषाई कुशलताओं के विकास में उपयोगी साधनों तथा उपकरणों को शामिल किया गया है ।  राजभाषा कार्यान्वयन कार्य में उपयोगी आदेशों का संकलन, वार्षिक कार्यक्रम, प्रशिक्षण कैलेंडर, विविध प्रपत्र, मार्गदर्शन एवं पूर्वतैयारी हेतु संसदीय राजभाषा समिति की निरीक्षण प्रश्नावली भी शामिल की गई है । हिंदी के ज्ञानवर्धन हेतु उपयोगी हिंदी व्याकरण बोध एवं रचना, अंग्रेज़ी-हिंदी शब्दकोश आदि ई-पुस्तकें तथा अन्य कई साधन इसमें उपलब्ध हैं । 

 

विकसित सूचना प्रौद्योगिकी ने हमारी कार्य-पद्धतियों को काफी प्रभावित किया है तथा उन्हें बहु-आयामी बनाया है ।  कंप्यूटरों तथा विशिष्ट साफ़्टवेयरों के प्रयोग से हमारे कार्य-निष्पादन में गति एवं गुणवत्ता नज़र आई है ।  राजभाषा कार्यान्वयन की दिशा में भी ऐसी गति एवं गुणवत्ता सुनिश्चित करने हेतु उपयोगी उपकरण इस सी.डी. में उपलब्ध कराए गए हैं ।  यह निश्चय ही एक अनूठा प्रयास है ।  हिंदी एवं अन्य भारतीय भाषाओं के प्रयोग में फांट की समस्या के निराकरण हेतु उपयोगी फांट परिवर्तक तथा यूनिकोड के संस्थापन उपकरण जोड़कर यूनिकोड के उपयोग के लिए प्रेरित किया गया है ।

 

इस सी.डी. में संकलित संसाधनों का उपयोग करते हुए सरकारी काम-काज में हिंदी के प्रगामी-प्रयोग की दिशा में विकास सुनिश्चित किया जा सकता है ।  आशा है,  नराकास, कोयंबत्तूर के सदस्य-कार्यालयों के प्रधान / प्रभारी अधिकारी इस सी.डी. का समुचित स्वागत करेंगे तथा इसका उपयोग करते हुए राजभाषा विभाग द्वारा निर्धारित लक्ष्य हासिल करने के लावा राजभाषा नीति के कार्यान्वयन एवं हिंदी प्रयोग की दिशा में गुणवत्ता एवं गति लाने का प्रयास करेंगे ।

  के. श्रीनिवासन

अध्यक्ष, नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति, कोयंबत्तूर एवं        

क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त, कोयंबत्तूर एवं चेन्नई क्षेत्र    

 

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s


%d bloggers like this: